दांत में दर्द है? तो तुरंत आजमाएं ये 8 घरेलू नुस्खे और रिलैक्स हो जाएं  

[ad_1]

दांत का दर्द अकेले नहीं आता। वह अपने साथ उस पूरे हिस्से को लपेट लेता है, जिस तरफ के दांत में दर्द है। सिर में तेज़ दर्द, मसूड़ों में झनझनाहट और दांत में दर्द। किसी के भी पूरे दिन को बिगाड़ने के लिए यह स्थिति काफी है। हालात ये हो जाते हैं, कि समझ नहीं आता कि क्या किया जाए। मगर परेशान न हों, क्योंकि घरेलू नुस्खों के बरसों पुराने खजाने में से हम वे उपाय ढूंढ लाए हैं, जो आपको तुरंत दांत के दर्द से छुटकारा दिला सकते हैं। 

जानिए दांत के दर्द से झटपट छुटकारा दिलाने वाले 8 घरेलू नुस्खे 

1 नमक पानी का कुल्ला

जब तक आप दंत चिकित्सक के पास नहीं पहुंचते, तब तक नमक डाले हुए गुनगुने पानी से कुल्ला करने से आपके दांतों को दर्द में आराम मिलेगा। इसके एक गिलास गुनगुने पानी में आधा चम्मच टेबल सॉल्ट डालकर मिला लें। कुल्ला कर के थूक दें। यह प्रक्रिया करते हुए ध्यान रखें कि आपको यह पानी पीना नहीं है। 

कई बार दांतों के बीच फंसे हुए भोजन के टुकड़े के कारण दांतों में दर्द होता है। कुल्ला करने से सब पानी के साथ बाहर आ जाएगा और नमक, दर्द में राहत देने का काम करेगा। कुल्ला करने के अलावा आप खाने के टुकड़े हटाने के लिए बाजार में मिलने वाले फ्लॉस का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

2 हाइड्रोजन पेरोक्साइड से कुल्ला

नमक वाले पानी की जगह हाइड्रोजन पेरोक्साइड वाले पानी का इस्तेमाल भी कर सकती हैं। हाइड्रोजन पेरोक्साइड और पानी को बराबर मात्रा में मिला कर घोल बना लें और फिर इस मिश्रण से कुल्ला करें। ध्यान रहे हाइड्रोजन पेरोक्साइड और पानी के इस मिश्रण को निगलना नहीं है।

3 ओटीसी दर्द निवारक

दंत चिकित्सक बच्चों के लिए एसिटामिनोफेन का सुझाव देते हैं। वयस्कों के लिए, इबुप्रोफेन और नेप्रोक्सन जैसी ओवर-द-काउंटर दवाएं ले सकती हैं। पर ये दवाएं चिकित्सीय परामर्श के बाद लेना ही बेहतर होगा। यदि आप दांत दर्द से निजात पाने के लिए एस्पिरिन खाने वाली हैं, तो इसे निगल लें। इसे दांत या अपने मसूड़ों पर न डालें। आपके मुंह के अंदरूनी हिस्से को नुकसान पहुंच सकता है ।

4 आइस पैक का ठंडा सेंक

अगर आपका चेहरा सूज गया है, तो पहले 24-36 घंटों के लिए अपने गाल पर आइस पैक लगाएं। यह दर्द को कम करने में मदद कर सकता है। अगर आपके दांत का कोई हिस्सा टूट गया है या ढीला हो गया है, तो आपके मसूड़ों में सूजन के साथ तेज दर्द हो सकता है। सूजन का मतलब यह भी हो सकता है कि आपके दांत की जड़ों में फोड़ा (gum sore), मवाद या गंदगी हो । 

Toothache 2 »टूथपेन की वजह हो सकती आपके दांतों में फंसी गंदगी। चित्र: शटरस्‍टॉक

इससे आपके जबड़े और अन्य दांतों में गंभीर संक्रमण हो सकता है। अगर आपके दांतों में ऐसी समस्या है, तो आपको दांतों में तेज दर्द के साथ ही बुखार हो सकता है। साथ ही आपके मसूड़े भी लाल हो सकते हैं। ऐसे में यह आपकी मदद करेगा। आइस पैक इस्तेमाल करने के लिए बर्फ के कुछ टुकड़े हाथ में लेकर, दांत के उस हिस्से पर तब तक रखें जब तक कि दर्द वाला हिस्सा सुन्न न हो जाए। शोधकर्ताओं का मानना ​​है कि बर्फ आपके मस्तिष्क तक दर्द के संकेतों को पहुंचने से रोकता है।

5 ओटीसी एनेस्थेटिक्स

ये ऐसे दर्द निवारक जैल या तरल पदार्थ हैं, जिनको सीधे दांत और आस-पास के मसूड़ों पर लगाया जाता है। इनमें बेंज़ोकेन होता है, जो थोड़ी देर के लिए आपके मुंह को सुन्न कर देता है। लेकिन ये जेल आपको केवल कुछ समय के लिए दर्द से राहत देते हैं।

6 लौंग का तेल

लौंग के तेल का इस्तेमाल एक प्राकृतिक उपचार है जो दर्द को कम करता है। इसे सीधे दर्द वाली जगह पर मलें या रुई को भिगोकर दांतों और मसूड़ों पर लगाएं। लौंग का तेल बेंज़ोकेन जितना प्रभावी हो सकता है, जो बिना पर्ची के मिलने वाले दांत दर्द जैल में सुन्न करने वाला घटक है ।

7 पिपरमिंट बैग या पुदीना चाय

एक ठंडा पिपरमिंट टी बैग या पुदीने की चाय आपके दर्द वाले दांत और मसूड़ों के दर्द को शांत कर सकता है। पुदीने की चाय बनाने के लिए एक कप पानी में बीस से पच्चीस पुदीने की पत्तियां डालें और पानी के आधा रह जाने तक उबाल लें। इस चाय को सिप सिप करके पिएं। 

Pudina me antiviral aur antioxidant tatva maujud hote hain.पुदीना में एंटीऑक्सीडेंट तत्व मौजूद होते हैं जो दांत दर्द में आराम देते हैं। चित्र: शटरस्टॉक

8 वेनीला अर्क 

वेनिला अर्क में अल्कोहल होता है। शराब थोड़ी देर के लिए दर्द वाली जगह को सुन्न कर देगी, और वेनिला में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट इसे ठीक करने में मदद करते हैं। अपने दर्द वाले दांत और मसूड़े पर इसे थोड़ी मात्रा में लगाने के लिए अपनी उंगली या कॉटन बॉल का इस्तेमाल करें।

कब मिलें डेंटिस्ट से

आपके दांत में दर्द लगातार बना हुआ हो। दांतों में होने वाली समस्या किसी ऐसी बड़ी दिक्कत की ओर इशारा करती है जिस पर ध्यान देने की आवश्यकता है। पॉपिंग या क्लिकिंग जबड़े में दर्द के कारण होता है; यह टेम्पोरोमैंडिबुलर जॉइंट डिसऑर्डर (TMJ) का संकेत दे सकता है ।डेक

यह भी पढ़ें: Vitamin B12 : शाकाहारी हैं, तो यहां जानिए विटामिन बी 12 के कुछ खाद्य स्रोत

 

[ad_2]

Leave a Reply

Your email address will not be published.